अमदाबाद के नरेंद्र मोदी स्टेडियम में खेले जा रहे पांच मैचों की टी ट्वेंटी सिरीज़ पर कोरोना का साया मंडराने लगा है। दरअसल कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों के चलते गुजरात क्रिकेट असोसिएशन ने यह फैसला लिया है कि अमदाबाद में बाकी के तीन टी ट्वेंटी मैचों को बिना दर्शकों की कराया जाएगा।

इंडिया और इंग्लैंड के बीच अहमदाबाद के नरेंद्र मोदी स्टेडियम में खेली जा रही पांच टी ट्वेंटी मैचों की सीरीज पर कोरोना का साया मंडराने लगा है। फिर इसकी आकृति नुमा जब बने दर्शकों के ही होंगे ये मार्च 16, 18 और 20 मार्च को खेले जाएंगे। गुजरात प्रोग्रेसिव सिलेक्शन के वाइस प्रेसिडेंट धनराज नागवानी ने इस बात की पुष्टि की है।

सीरीज से पहले गुजरात दुग्ध एसोसिएशन ने इस सौ प्रतिशत फंस को एंट्री की बात कही थी। इस फैसले को पहले मैच से ठीक पहले रद कर दिया गया था। साथ ही 50 प्रतिशत फैन्स को एंट्री की मंजूरी मिली थी। वाइस प्रेजिडेंट द्रेज ने कहा भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड से सलाह के बाद ही ये फैसला लिया गया है। तीनों मैच के लिए टिकट खरीदने वाले दर्शकों को उनके पैसे वापस कर दिए जाएंगे।

अहमदाबाद में करुणा के बढ़ते मामलों को देखते हुए ये फैसला किया गया है। साथ ही नथवाणी ने अपील भी की है कि जिन दर्शकों को कॉमेडी मेट्रो टिकट मिले हैं वो मैच देखने के लिए स्टेडियम में नहीं आएं। दुनिया के सबसे बड़े क्रिकेट स्टेडियम में पहले टी ट्वेंटी में 67 हजार 200 फैन्स मौजूद रहे थे। ये कोरोना के बीच लोगों के बाद किए गए किसी भी क्रिकेट मैच में रिकॉर्ड है। स्टेडियम की क्षमता लगभग एक लाख दर्शकों की है। कोरोना के चलते अभी स्टेडियम बाकी तीन मैचों में खाली रहेगा।

इंडिया और इंग्लैंड के बीच पांच टी ट्वेंटी सिरीज अबेकस की बराबरी पर हैं। सभी मैच अहमदाबाद में ही खेले जाएंगे। तीसरा मुकाबला 16 मार्च यानि कि आज खेला जाएगा। करीना के बढ़ मामलों को देखते हुए टी ट्वेंटी सिरीज में 50 प्रतिशत दर्शकों की ही मैदान पर एंट्री की मंजूरी मिली थी। हालांकि अब बढ़ती कोरोना केसेस को देखते हुए यह फैसला लिया गया है कि बाकी के तीन टी ट्वेंटी मैचों में दर्शकों को अनुमति नहीं दी जाएगी।

Author

Write A Comment