भारत और इंग्लैंड के बीच जो दूसरा टी ट्वंटी मैच खेला गया उसमें टीम इंडिया ने 7 विकेट से जीत दर्ज की। टीम इंडिया की इस जीत में काफी अहम योगदान निभाया टीम इंडिया के लिए इस मैच में डेब्यू करने वाले इशान किशन ने किसी ने सोचा भी नहीं था कि इस मैच में इशान किशन को मौका दिया जाएगा लेकिन विराट कोहली ने इशान किशन और सूर्यकुमार यादव को प्लेइंग इलेवन में शामिल करके काफी लोगों को सरप्राइज कर दिया।

IND Vs ENG, 2nd T20: डेब्यू मैच में Ishan Kishan का तूफान, भारत को दिलाई धमाकेदार जीत।

लेकिन इशान किशन ने अपने सेलेक्शन को सही साबित किया क्योंकि जैसे ही भारत को इस मैच में 165 रनों के लिए जीत का लक्ष्य मिला टीम इंडिया मैदान पर उतरी तो भारत की शुरुआत अच्छी नहीं रही थी। पहले ही ओवर में पहला झटका लगा था लोकेश राहुल आउट हो गए थे तो वहां पर जिम्मेदारी थी इशान किशन की की वो इस पारी को आगे लेकर जाएं और उन्होंने अपनी जिम्मेदारी को बखूबी निभाया भी।

उन्होंने विराट कोहली के साथ मिलकर 94 रनों की साझेदारी की और उन्होंने भारत के लिए 56 रन बनाए। इस 56 रन की पारी में उन्होंने क्या ताबड़ तोड़ शॉट्स लगाए ऐसे शॉट्स लगाए कि इंग्लैंड की टीम देखती रह गई और इतना ही नहीं वो खास खिलाड़ी हैं उन्होंने ये भी दिखाया कि इस खिलाड़ी में भी एक्स फैक्टर है। इशान किशन ने अपना जो पहला t20 इंटरनेशनल का अर्धशतक लगाया वो भी बड़े स्टाइल के साथ छक्का लगाकर उन्होंने पूरा किया तो ये दिखाता है कि इस खिलाड़ी में वो बात है वो दमखम है जो टीम इंडिया के लिए भविष्य का सितारा बन सकता है।

इसके अलावा इशान किशन के बारे में आपको आईपीएल में भी बतातें इस साल उनका प्रदर्शन आईपीएल में भी शानदार रहा था। उन्होंने काफी अच्छे रन बनाये थे 99 रन उनका बेस्ट को रहता है एक रन से शतक जरूर चूक गए थे लेकिन फिर भी उन्होंने मुम्बई इंडियंस के लिए ताबड़तोड़ पारियां खेली थी। अगर ओवर आल आईपीएल के रिकॉर्ड की बात करें तो इशान किशन ने अभी तक आईपीएल में 51 मैच खेले 51 मैच में 1211 रन उनके नाम हैं जिसमें 7 अर्धशतक उन्होंने लगाएं और देखिए जो 99 रन पर आउट होने वाली बात करते वो उनका बेस्ट स्कोर है। इसी साल वो जो पिछले साल आईपीएल हुआ था आईपीएल 2020 जिसमें मुम्बई इंडियंस चैम्पियन बनी थी उसमें वो उन्होंने 99 रन बनाये थे तो आप समझ सकते हैं कितने विस्फोटक बल्लेबाज हैं और कुछ ऐसी ही विस्फोटक शुरुआत उन्होंने अपने इंटरनैशनल करियर करी है।

इशान किशन के बारे में आपको बताते हैं थोड़ा सा पीछे ले चलते हैं अंडर लाइन टीम वर्ल्ड कप जब हुआ था 2016 में तो ये भारतीय टीम के कप्तान थे इनकी कप्तानी में टीम इंडिया खेलने गई थी और इन्होंने जिस तरीके से टीम इंडिया की कप्तानी की थी इन्होंने टीम इंडिया को अंडरलाइन वर्ल्ड कप के फाइनल तक पहुंचाया था 2016 में लेकिन फाइनल में भारत को वेस्ट इंडीज के हाथों हार का सामना करना पड़ा था। लेकिन इशान किशन उसकी स्कीम की अगुवाई करे। बड़ी बात है कि किसी भी खिलाड़ी के लिए कि वो अपनी टीम को अंडर राइटिंग वर्ल्ड कप में कैप्टन कहा और वो उस टीम को फाइनल तक ले जाता है।

हालांकि फाइनल मुकाबले में वेस्टइंडीज से भारत को हार का सामना करना पड़ा था लेकिन उसी टूर्नामेंट में इशान किशन ने दिखा दिया था कि इस खिलाड़ी में वो पोटेंशियल है वो दमखम है जो भारत के लिए भविष्य का सितारा बन सकता और आज जब उन्हें इंटरनैशनल क्रिकेट में पहली बार मौका मिला तो उन्होंने जो विस्फोटक पारी खेली उससे ये दिखा दिया कि मैं इस साल होने वाले टी ट्वेंटी वर्ल्ड कप के लिए एक कंटेनर हो सकता हूं। मेरा भी नंबर आ सकता है और मैं वो दावेदार हूं जिसे टी ट्वंटी वर्ल्ड कप के लिए टीम में शामिल किया जाना चाहिए।

Author

Write A Comment